Inspirational short stories,MOTIVATIONAL Hindi Stories

Hindi stories,inspirational short stories,motivational speeches,motivational Hindi stories,how to become successful,poem,English stories,motivational quotes,moral stories,motivational short story in hindi,

AMAZONE

Thursday, January 17, 2019

Motivativational short Story In Hindi,|अवसर | kids story


        |अवसर | (kids story)

 Motivational short Story In Hindi



एक दिन किसी किसान का बैल गड्ढे  में गिर जाता है। तभी सभी जानवर दयालुता की भावना से रोने लगे जबकि किसान ये सोच रहा था की अब क्या किया जाए। अंततः, उसने निर्णय किया की वह जानवर बहुत बुढा हो गया है। और वैसे भी उसे उस गड्ढे  को भरकर बंद करना है। इसलिए उस बैल  को गड्ढे  से निकालने में कोई फायदा नहीं।

inspirational short story in hindi |अवसर |


उसने अपने पड़ोसियों को अपने मदद के लिए बुलाया और गड्ढा  बंद करने के लिए लगने वाली मिटटी पाने के लिए बाजु की जमीन खोद के मिटटी निकालने लगा। गड्ढा  बंद करने के लिए अब पडोसियो ने भी उसका हाथ बटाना चालू किया और वह भी खुदाई करके मिटटी निकालने लगे और वह मिटटी गड्ढे में डालने लगे।
यह देख गड्ढे  में खड़ा बैल  डर गया और उसे समझ आ गया की अब वह ज्यादा देर तक ज़िंदा नहीं रह पायेगा। यह जानते ही वह जोर जोर से रोने लगा, पर उसकी मदद करने के लिए कोई नहीं आया। ऊपर पड़ोसियों की मदद मिलने के वजह से बैल  पर मिटटी डालने का काम तेजी से हो रहा था।
किसान और उसके साथियो ने यह मान लिया था की बैल  अब तक गड्ढे  में डाले हुए मिटटी के निचे दब चूका होगा। पर जब उन्होंने गड्ढे  में झाँक के देखा तब वह आश्चर्यचकित रह गए।
उन्होंने देखा की वह लोग जो भी मिटटी बैल  पर डालते बैल  उस मिटटी को अपने शरीर पर से झटक देता और उसे निचे गिरा देता। ऐसा करने के वजह से उसके निचे सारी मिटटी का एक ऊँचा ढेर लग चूका था और बैल  बड़े आराम से उस ढेर पर खड़ा था। देखते देखते किसान ने डाली हुयी मिटटी का ढेर इतना ऊँचा हो गया की बैल  खुद गड्ढे  से बहार निकल कर बाहर आ गया।

इस प्रेरणादायक कहानी से सीख / Moral From 

Inspirational short Story in Hindi ,kids story

दोस्तों जिस तरह कहानी में बैल  के ऊपर मिटटी डाली जा रही थी उसी तरह हम सबके ऊपर ज़िन्दगी में कई सारी मुश्किलें आती है। यह मुश्किलें personal life में हो या फिर career / professional life में हो, इस हर मुश्किल को सुनहरे अवसर में बदलना हमारे हाथ में है।
आप आयी हुयी हर तकलीफ या मुश्किल situation को पकड़ के रोते नहीं बैठ सकते। जिस प्रकार बैल  ने अपने ऊपर डाले हुयी मिटटी को ही अपने मुसीबत से बाहर निकालने का मार्ग बनाया उसी तरह हमे खुद पर आयी हुयी हर मुसीबत में सकारात्मक सोच से बाहर निकालने का रास्ता ढूँढना चाहिए।
हम जीवन में एक ही जगह पर रूककर किसी मुश्किल से हार मानकर कभी आगे नहीं बढ़ सकते। जीवन में मुश्किलों से डरने की बजाये उनका सामना कर के एक-एक कदम आगे बढ़ने की कोशिश करे। तभी यह कहानी सही मायने में सफल होगी।
STORY TELLER पर हम अक्सर ऐसी कहानिया बताते है जो सिर्फ बड़ो को ही नहीं बल्कि बच्चो को भी entertaining के साथ साथ ज्ञानपूर्ण हो। STORY TELLER पर inspirational short story in hindi kids story के साथ ऐसी भी कहानिया है जो आपका दिल छू जाएँगी।

More  kids story


No comments:

Post a Comment